Just another WordPress.com weblog

durga visha yantra, durga bisha yantra, durga bisa yantra, nava ratna jadit shri yantra locket, navratn jadit shree yantra, jade panna ganesh, emrald ganesh, bhagya lakshmi dibbi, bhagya laxmi box, bhagya laxmi box se dhan prapti, munga ganesh, coral ganesh, mangal yantra, vyapar vruddhi yantra, tantra raksha yantra, sarva karya siddhi yantra, sarva roganashank yantra kawach, मन्त्र सिद्ध सामग्री (अक्टूबर-2010), mantra siddha produvt (october-2010)

दुर्गा बीसा यंत्र

शास्त्रोक्त मत के अनुशार दुर्गा बीसा यंत्र दुर्भाग्य को दूर कर व्यक्ति के सोये हुवे भाग्य को जगाने वाला माना गया हैं। दुर्गा बीसा यंत्र द्वारा व्यक्ति को जीवन में धन से संबंधित संस्याओं में लाभ प्राप्त होता हैं। जो व्यक्ति आर्थिक समस्यासे परेशान हों, वह व्यक्ति यदि नवरात्रों में प्राण प्रतिष्ठित किया गया दुर्गा बीसा यंत्र को स्थाप्ति कर लेता हैं, तो उसकी धन, रोजगार एवं व्यवसाय से संबंधी सभी समस्यों का शीघ्र ही अंत होने लगता हैं। नवरात्र के दिनो में प्राण प्रतिष्ठित दुर्गा बीसा यंत्र को अपने घर-दुकान-ओफिस-फैक्टरी में स्थापित करने से विशेष लाभ प्राप्त होता हैं, व्यक्ति शीघ्र ही अपने व्यापार में वृद्धि एवं अपनी आर्थिक स्थिती में सुधार होता देखेंगे। संपूर्ण प्राण प्रतिष्ठित एवं पूर्ण चैतन्य दुर्गा बीसा यंत्र को शुभ मुहूर्त में अपने घर-दुकान-ओफिस में स्थापित करने से विशेष लाभ प्राप्त होता हैं।

मूल्य: Rs.550 से Rs.8200 तक

नवरत्न जड़ित श्री यंत्र

शास्त्र वचन के अनुसार शुद्ध सुवर्ण या रजत में निर्मित श्री यंत्र के चारों और यदि नवरत्न जड़वा ने पर यह नवरत्न जड़ित श्री यंत्र कहलाता हैं। सभी रत्नो को उसके निश्चित स्थान पर जड़ कर लॉकेट के रूप में धारण करने से व्यक्ति को अनंत एश्वर्य एवं लक्ष्मी की प्राप्ति होती हैं। व्यक्ति को एसा आभास होता हैं जैसे मां लक्ष्मी उसके साथ हैं। नवग्रह को श्री यंत्र के साथ लगाने से ग्रहों की अशुभ दशा का धारण करने वाले व्यक्ति पर प्रभाव नहीं होता हैं। गले में होने के कारण यंत्र पवित्र रहता हैं एवं स्नान करते समय इस यंत्र पर स्पर्श कर जो जल बिंदु शरीर को लगते हैं, वह गंगा जल के समान पवित्र होता हैं। इस लिये इसे सबसे तेजस्वी एवं फलदायि कहजाता हैं। जैसे अमृत से उत्तम कोई औषधि नहीं, उसी प्रकार लक्ष्मी प्राप्ति के लिये श्री यंत्र से उत्तम कोई यंत्र संसार में नहीं हैं एसा शास्त्रोक्त वचन हैं। इस प्रकार के नवरत्न जड़ित श्री यंत्र गुरूत्व कार्यालय द्वारा शुभ मुहूर्त में प्राण प्रतिष्ठित करके बनावाए जाते हैं।

पन्ना गणेश

भगवान श्री गणेश बुद्धि और शिक्षा के कारक ग्रह बुध के अधिपति देवता हैं। पन्ना गणेश बुध के सकारात्मक प्रभाव को बठाता हैं एवं नकारात्मक प्रभाव को कम करता हैं।. पन्न गणेश के प्रभाव से व्यापार और धन में वृद्धि में वृद्धि होती हैं। बच्चो कि पढाई हेतु भी विशेष फल प्रद हैं पन्ना गणेश इस के प्रभाव से बच्चे कि बुद्धि कूशाग्र होकर उसके आत्मविश्वास में भी विशेष वृद्धि होती हैं। मानसिक अशांति को कम करने में मदद करता हैं, व्यक्ति द्वारा अवशोषित हरी विकिरण शांती प्रदान करती हैं, व्यक्ति के शारीर के तंत्र को नियंत्रित करती हैं। जिगर, फेफड़े, जीभ, मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र इत्यादि रोग में सहायक होते हैं। कीमती पत्थर मरगज के बने होते हैं।

Rs.550 से Rs.8200 तक

भाग्य लक्ष्मी दिब्बी

सुख-शान्ति-समृद्धि की प्राप्ति के लिये भाग्य लक्ष्मी दिब्बी :- जिस्से धन प्रप्ति, विवाह योग, व्यापार वृद्धि, वशीकरण, कोर्ट कचेरी के कार्य, भूतप्रेत बाधा, मारण, सम्मोहन, तान्त्रिक बाधा, शत्रु भय, चोर भय जेसी अनेक परेशानियो से रक्षा होति है और घर मे सुख समृद्धि कि प्राप्ति होति है, भाग्य लक्ष्मी दिब्बी मे लघु श्री फ़ल, हस्तजोडी (हाथा जोडी), सियार सिन्गी, बिल्लि नाल, शंख, काली-सफ़ेद-लाल गुंजा, इन्द्र जाल, माय जाल, पाताल तुमडी जेसी अनेक दुर्लभ सामग्री होती है।

मूल्य:- Rs. 910 से Rs. 8200 तक उप्लब्द्ध

मूंगा गणेश

मूंगा गणेश को विध्नेश्वर और सिद्धि विनायक के रूप में जाना जाता हैं। इस लिये मूंगा गणेश पूजन के लिए अत्यंत लाभकारी हैं। गणेश जो विध्न नाश एवं शीघ्र फल कि प्राप्ति हेतु विशेष लाभदायी हैं।

मूंगा गणेश घर एवं व्यवसाय में पूजन हेतु स्थापित करने से गणेशजी का आशीर्वाद शीघ्र प्राप्त होता हैं। क्योकि लाल रंग और लाल मूंगे को पवित्र माना गया हैं। लाल मूंगा शारीरिक और

मानसिक शक्तियों का विकास करने हेतु विशेष सहायक हैं। हिंसक प्रवृत्ति और गुस्से को नियंत्रित करने हेतु भी मूंगा गणेश कि पूजा लाभ प्रद हैं। एसी लोकमान्यता हैं कि मंगल गणेश को स्थापित करने से भगवान गणेश कि कृपा शक्ति चोरी, लूट, आग, अकस्मात से विशेष सुरक्षा प्राप्त होती हैं, जिस्से घर में या दुकान में उन्नती एवं सुरक्षा हेतु मूंगा गणेश स्थापित किया जासकता हैं।

प्राण प्रतिष्ठित मूंगा गणेश कि स्थापना से भाग्योदय, शरीर में खून की कमी, गर्भपात से बचाव, बुखार, चेचक, पागलपन, सूजन और घाव, यौन शक्ति में वृद्धि, शत्रु विजय, तंत्र मंत्र के दुष्ट प्रभा, भूत-प्रेत भय, वाहन दुर्घटनाओं, हमला, चोर, तूफान, आग, बिजली से बचाव होता हैं। एवं जन्म कुंडली में मंगल ग्रह के पीड़ित होने पर मिलने वाले हानिकर प्रभावों से मुक्ति मिलती हैं।

जो व्यक्ति उपरोक्त लाभ प्राप्त करना चाहते हैं उनके लिये मंत्र सिद्ध मूंगा गणेश अत्यधिक फायदेमंद हैं। मूंगा गणेश कि नियमित रूप से पूजा करने से यह अत्यधिक प्रभावशाली होता हैं एवं इसके शुभ प्रभाव से सुख सौभाग्य कि प्राप्ति होकर जीवन के सारे संकटो का स्वतः निवारण होजाता हैं।

मूल्य:- Rs.550 से Rs. 8200 तक उप्लब्द्ध

मंगल यंत्र

(त्रिकोण) मंगल यंत्र को जमीन-जायदाद के विवादो को हल करने के काम में लाभ देता हैं, इस के अतिरिक्त व्यक्ति को ऋण मुक्ति हेतु मंगल साधना से अति शीध्र लाभ प्राप्त होता हैं। विवाह आदि में मंगली जातकों के कल्याण के लिए मंगल यंत्र की पूजा करने से विशेष लाभ प्राप्त होता हैं।

मूल्य मात्र Rs- 550

व्यापार वृद्धि कवच

व्यापार वृद्धि कवच व्यापार के शीघ्र उन्नति के लिए उत्तम हैं। चाहें कोई भी व्यापार हो अगर उसमें लाभ के स्थान पर बार-बार हानि हो रही हैं। किसी प्रकार से व्यापार में बार-बार बांधा उत्पन्न हो रही हो! तो संपूर्ण प्राण प्रतिष्ठित मंत्र सिद्ध पूर्ण चैतन्य युक्त व्यापात वृद्धि यंत्र को व्यपार स्थान या घर में स्थापित करने से शीघ्र ही व्यापार वृद्धि एवं नितन्तर लाभ प्राप्त होता हैं।

मूल्य मात्र- Rs.370 & 730

तंत्र रक्षा कवच

तंत्र रक्षा कवच को धारण करने से व्यक्ति के उपर किगई समस्त तांत्रिक बाधाएं दूर होती हैं, उसी के साथ ही धारण कर्ता व्यक्ति पर किसी भी प्रकार कि नकारत्मन शक्तियो का कुप्रभाव नहीं होता। इस कवच के प्रभाव से इर्षा-द्वेष रखने वाले सभी लोगो द्वारा होने वाले दुष्ट प्रभावो से रक्षाहोती हैं।

मूल्य मात्र: Rs.730

सर्व कार्य सिद्धि कवच

जिस व्यक्ति को लाख प्रयत्न और परिश्रम करने के बादभी उसे मनोवांछित सफलताये एवं किये गये कार्य में सिद्धि (लाभ) प्राप्त नहीं होती, उस व्यक्ति को सर्व कार्य सिद्धि कवच अवश्य धारण करना चाहिये।

कवच के प्रमुख लाभ: सर्व कार्य सिद्धि कवच के द्वारा सुख समृद्धि और नव ग्रहों के नकारात्मक प्रभाव को शांत कर धारण करता व्यक्ति के जीवन से सर्व प्रकार के दु:ख-दारिद्र का नाश हो कर सुख-सौभाग्य एवं उन्नति प्राप्ति More……..

सर्व रोगनाशक यंत्र/कवच

मनुष्य अपने जीवन के विभिन्न समय पर किसी ना किसी साध्य या असाध्य रोग से ग्रस्त होता हैं। उचित उपचार से ज्यादातर साध्य रोगो से तो मुक्ति मिल जाती हैं, लेकिन कभी-कभी साध्य रोग होकर भी असाध्या होजाते हैं, या कोइ असाध्य रोग से ग्रसित होजाते हैं। हजारो लाखो रुपये खर्च करने पर भी अधिक लाभ प्राप्त नहीं हो पाता। डॉक्टर द्वारा दिजाने वाली दवाईया अल्प समय More…..

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

टैग का बादल

%d bloggers like this: