Just another WordPress.com weblog

  वार्षिक राशी फल 2011, वृश्चिक राशि, वृश्चिक राशी, वृष्चिक राशि, वृष्चिक राशी, 2011 horoscope scorpio, 2011 horoscope Free, 2011 horoscope vedic, 2011 horoscope predictions, 2011 horoscope moon sign, 2011 horoscope predictions free, 2011 horoscope love Horoscope, 2011 indian astrology predictions, 2011 indian astrology forecast, 2011 indian astrological predictions, 2011 rasi palan, 2011 rasi predictions, 2011 rasi bhavishya, 2011 rashi bhavishya, 2011 rashi phal, 2011 rashi phal predictions, 2011 rashifal, 2011 rashiphal in hindi, hindi rashiphal 2011, 2011 rasifal, 2011 zodiac predictions, 2011 zodiac signs, 2011 zodiac forecast, 2011 zodiac horoscope, 2011 zodiac year predictions free, horoscope 2011 hindi, 2011 hindi horoscope, indian horoscope 2011, online indian horoscope 2011, 2011 vrischik rashi, 2011 vrischik rasi, 2011 vrischik rasi predictions, 2011 vrischik rashiphal, 2011 vrischik rasi, 2011 vruschik rashi, 2011 vruschik rasi, 2011 vruschik rasi predictions, 2011 vruschik rashiphal, 2011 vruschik rasi, वृश्चिक वार्षिक राशि फल 2011

वृश्चिक राशि वार्षिक भविष्य फल 2011

वृश्चिक राशि:

2011 के दौरान आपको आय के नये-नये स्त्रोत प्राप्त हो सकते हैं। आप एक से अधिक स्त्रोत से धन लाभ प्राप्त कर अपनी आर्थिक स्थिती सुधार सकते हैं। अपनी बौद्धिक योग्यता से अधिक आर्थिक लाभ प्राप्त कर सकते हैं। इस वर्ष आपको नयी परियोजना शुरु करने के लिये कई शुभ अवसर प्राप्त हो सकते हैं। जनवरी, फरवरी, मार्च, अप्रैल व्यवसायीका कायो हेतु उत्तम रहेगा।
आपके सामाजिक पद-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। लोग आपके अच्छे कर्मो की प्रशंसा और सराहना करेंगे। इस अवधि में अत्याधिक लाभ के चक्कर में किसी अनुचित कार्यो को करने से बचे। नये लोगो कि मित्रता आर्थिक द्रष्टी से लाभप्रद रहेगी।
अपने स्वभाव से क्रोध, उत्तेजना पर काबु करने का प्रयास करे अन्यथा मई के द्वितीय सप्ताह के बाद में आपको कई महत्वपूर्ण अवसरो को खना पड सकता हैं।
इस वर्ष आपको शारीरिक से ज्यादा बौधिक कार्य करना पड सकता हैं। भूमि-भवन इत्यादी में किया गया पूंजि निवेश, क्रय-विक्रय लाभ प्रद हो सकता हैं। अत्याधिक लाभ के चक्कर में किसी गलत स्थानो पर पूंजि निवेश हानी कारक हो सकता हैं। इस दौरान
आपके बल और साहस में वृद्धि होगी। इस दौरान कर्ज लेने से बचे। आपको बकाया भुगतान एवं आकस्मिक धन कि प्राप्ति हो सकती हैं। परिश्रम और मेहनत से आपनी योजनाओं सफलता प्राप्त कर सकते हैं। पूराने मित्रो एवं पारिवारीक सदस्यो से मतभेदो को दूर हो सकते हैं। निरंतर मेहनत से किये गये कार्यो से अपने भाग्य में सुधार ला सकते हैं। छोटी-छोटी समस्याए आने के उपरांत भी कामयाबी प्राप्त होगी। भूख से अधिक भोजन करने से आप पेट से संबंधित समस्या से ग्रस्त हो सकते हैं।
मई 2011 के प्रथम सप्ताह के बाद आपके कार्य क्षेत्र में सुधार होगा। यदि नोकरी में है तो आपकी पदौन्नती हो सकती हैं और व्यवसाय में हैं तो आपके व्यवसायीक लाभ में आकस्मिक वृद्धि हो सकती हैं। भूमि-भवन से संबंधिक कार्यो से लाभ प्राप्त होगा। भूमि-भवन इत्यादी में पूंजि निवेश से उचित लाभ प्राप्त हो सकता हैं।
धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यो को करने से मन प्रसन्न रहेगा। निम्न वर्ग के लोगो कि संगति करने से बचें। खाली समय में व्यर्थके कार्यो में अपना समय नष्ट करने से बचे। अपना समय किसी ना किसी कार्य में एवं अपनी योजनाओं को पूर्ण करने में बिताएं। आपके विरोधि एवं शत्रु वर्ग के लोग परास्त होंगे।

वृश्चिक मासिक राशि फल:

1 से 15 जनवरी 2011

इस अवधि के दौरान आपको अपने कार्यो में शुभ परिणाम प्राप्त होंगे। समय आपके लिये भाग्यशाली साबित होगा। आप मन अत्याधिक भावनात्मक हो सकता हैं। आपको सकारत्मक और नकारात्मक गुणों अवलोकन कर अपनी उन्नति का प्रयास करना चाहिये। आपको उत्तम विचारो वाली मित्रो से लाभ प्राप्त हो सकता हैं। आपका पारिवारिक जीवन सुखमय रहेगा।
 
16 से 31 जनवरी 2011
यदि आपके कार्य क्षेत्र में अधिक अडचने नहीं आती तो आप नयी परियोजना शुरु कर सकते हैं। पूर्वकाल में कि गई गलतिओं के लिये स्वयं को दोशी न समझें, उनमें सुधार लाने की कोशिश करें। इस अवधि में आपका अधिकतर समय अपने उद्देश्यो एवं योजनाओं को सफल करने कि दिशा में लग सकता हैं। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।
1 से 14 फ़रवरी 2011
आपको नई नोकरी प्राप्त कर सकते हैं या किसी नये व्यवसाय व्यवसाय  ……………..>>
15 से 28 फ़रवरी 2011
इस दौरान आपको अपने प्रयाशो के अनुरुप लाभ कि अधिक प्राप्ति होगी। दूरस्थ      ……………..>>
1 से 15 मार्च 2011
आपको शुभ फल प्राप्त होंगे। इस दौरान यदि नोकरी में है तो आपकी पदौन्नती ……………..>>
16 से 31 मार्च 2011
भूमि-भवन इत्यादी में किया गया पूंजि निवेश, क्रय-विक्रय लाभ ……………..>>
1 से 15 अप्रैल 2011
नौकरी व्यवसाय में बदला करने से बचे। नई योजनाओं औरा कार्यो को ……………..>>
16 से 30 अप्रैल 2011
आपको महत्वपूर्ण कार्यो को पूरा करने हेतु कर्ज लेना पड सकता हैं। कार्य कि व्यस्तता, ……………..>>
1 से 15 मई 2011
पूर्ण परिश्रम एवं कड़ी मेहनत से किये गये कार्यो के अनुरुप परिणाम ……………..>>
16 से 31 मई 2011
नया व्यवसाय या नौकरी प्राप्त हो सकती हैं या आपके कार्य क्षेत्र में नये ……………..>>
1 से 15 जून 2011
व्यापारिक साझेदार और मित्रो से लेन-देन में सावधानी बर्ते धन ……………..>>
16 से 30 जून 2011
नई परियोजना से संबंधि निर्णय लेना लाभप्रद हो सकता हैं। विरोधि पक्ष ……………..>>
1 से 15 जुलाई 2011
इस अवधि में आपको प्रतिकूल परिणाम प्राप्त हो सकते हैं। महत्वपूर्ण कार्यो में ……………..>>
16 से 31 जुलाई 2011
इस दौरान आपको महत्वपूर्ण कार्यो को स्थगित करना पड सकता हैं। आपको परिश्रम ……………..>>
1 से 15 अगस्त 2011
इस दौरान आपको अनुकूल परिणामो कि प्राप्ति होगी। नये नौकरी-व्यापर ……………..>>
16 से 31 अगस्त 2011
आपके कार्य क्षेत्र की रुकावटें थोडि बहुत दूर होंगी। आप अपनी मंजिल के करीब ……………..>>
1 से 15 सितम्बर 2011
समय आपके महत्वपूर्ण कार्यो एवं योजनाओं हेतु अनुकूल है। इस दौरान ……………..>>
16 से 30 सितम्बर 2011
आप अपने कार्य का अच्छा प्रदर्शन करने में समर्थ होंगे। इष्ट मित्रो एवं परिवार ……………..>>
1 से 15 अक्टूबर 2011
इस माह आपके अंदर रचनात्मक कार्य सफल हो सकते हैं। नया व्यवसाय या नौकरी ……………..>>
16 से 31 अक्टूबर 2011
कार्य में आनेवाली रुकावटो में भी कमी होगी और दुरस्थ स्थानों से धन ……………..>>
1 से 15 नवम्बर 2011
नौकरी-व्यवसाय का तेजी से विस्तार हो सकता हैं। इस अवधि में आपके उपर कार्य ……………..>>
16 से 30 नवम्बर 2011
नौकरी-व्यवसाय में अत्याधिक परिश्रम एवं मेहनत ……………..>>
1 से 15 दिसम्बर 2011
यह समय आपके लिये भाग्यशाली साबित होगा। मित्र एवं परिवार ……………..>>
16 से 31 दिसम्बर 2011
किसे नई परियोजनाओं की शुरुआत कर सकते हैं। आपकी रुचि ……………..>>
 
संपूर्ण लेख पढने के लिये कृप्या गुरुत्व ज्योतिष ई-पत्रिका जनवरी-2010 का अंक पढें।
इस लेख को प्रतिलिपि संरक्षण (Copy Protection) के कारणो से यहां संक्षिप्त में प्रकाशित किया गया हैं।

Comments on: "वृश्चिक वार्षिक राशि फल 2011" (1)

  1. my question-kya mai aane wale jindagi me mai apne wife ke sath happy rahinga ? aur mujhe jindagi me naukari milegi kaisi?
    meri aane wali jindagi kaisi hogi mai aage chalkar kya banung ?
    kya mai mata pita ki sewa kar sakunga kya mai jyada dino tak nahi jiunga please mujhe bataiye

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

टैग का बादल

%d bloggers like this: